Touch-enabled 3D Flipping Animations Examples


About Us हमारे बारे में

Who We Are हम कौन हैं


CRIS (Centre for Railway Information Systems) is an organization under Ministry of Railways. CRIS is a unique combination of competent IT professionals and experienced Railway personnel enabling it to deliver complex Railway IT systems with stupendous success in core areas. Since its inception, CRIS is developing/maintaining softwares for the following key functional areas of the Indian Railways.

क्रिस (रेल सूचना प्रणाली केंद्र) रेल मंत्रालय के अंतर्गत एक संगठन है। क्रिस प्रतिभावान आईटी पेशेवरों और अनुभवी रेल कर्मचारियों का एक अनोखा संयोजन है जो इसे आधारभूत क्षेत्रों में अत्यधिक सफलता सहित जटिल रेल आईटी प्रणालियां प्रदान करने में सक्षम बनाता है। अपनी शुरुआत से ही क्रिस भारतीय रेल के निम्न महत्वपूर्ण क्षेत्रों के लिए सॉफ्टवेयर विकसित/देखरेख कर रहा है।

Ticketing & Passengers

टिकट प्रणाली एवं यात्री

Smiley face
  • Facilitate in fulfilling ticketing needs of about 2 crore passengers daily.

  • More than 25,000 tickets per minute booking capabilities.

  • Handle more than 20 crore enquiries daily regarding train movements and arrival/departure.
Smiley face
  • प्रतिदिन लगभग 2 करोड़ यात्रियों की टिकट आवश्यकताओं को पूरा करता है।

  • प्रति मिनट 25,000 से अधिक टिकट बुक करने की क्षमता।

  • गाड़ी आवागमन और आगमन/प्रस्थान के संबंध में प्रतिदिन 20 करोड़ से अधिक पूछताछ संभालता है।

In a vast country like India, with one of the largest Railway networks in the world, It is impossible to even imagine about catering to public services like booking of Reserved and Unreserved tickets, information about availability of seats, Tatkal ticket bookings, etc. without using modern day, secure and fail proof IT solutions. Our Passenger Reservation System, Unreserved Ticketing System, Next Generation Ticketing Systems have been doing this with exemplary performance and efficiency thereby making us leading IT enablers in providing Government to Citizens (G2C) services. More...

भारत जैसा विशाल देश, जहाँ विश्व के सबसे बड़े रेल नेटवर्क में से एक है , वहां आधुनिक, सुरक्षित एवं फूल प्रूफ आईटी उपायों के उपयोग किए बिना आरक्षित और अनारक्षित टिकटों की बुकिंग, सीटों की उपलब्धता के बारे में सूचना, तत्काल टिकटों की बुकिंग जैसी सार्वजनिक सेवाओं को संभालने की कल्पना नहीं की जा सकती है। हमारी यात्री आरक्षण प्रणाली, अनारक्षित टिकटिंग प्रणाली, नेक्सट जनरेशन टिकटिंग सिस्टम इसे अनुकरणीय प्रदर्शन और कुशलता के साथ कर रहा है, जो हमें सरकार से नागरिक (G2C) सेवाएं उपलब्ध कराने में अग्रणी आईटी संगठन बनाता है। आगे...

Freight Services

माल यातायात सेवाएं

Smiley face
  • Manage movement of 3.5 MT freight which generates more than 343 Cr. freight earnings daily.

  • Enable Digital Payments through 98% cashless Revenue collections.

  • Monitor 2.8 lakh wagons spread all over India.
Smiley face
  • 3.5 मीट्रिक टन माल यातायात के आवागमन संभालना जो प्रतिदिन 343 करोड़ रुपए से अधिक आमदनी सृजित करता है।

  • 98 प्रतिशत नकदरहित संग्रहण द्वारा डिजिटल भुगतान सक्षम बनाना।

  • सम्पूर्ण भारत में फैले 2.8 लाख मालडिब्बों की निगरानी।

Indian Railways carry about 3.5 million tonnes of freight daily. Our digital platforms like Freight Operation Information System is the backbone of Indian Railway's freight business thereby digitalising freight bookings & revenue collection business processes. Our Rake Management System is deployed at 8000 + locations which plays a vital role in management of daily freight movement and earnings. The voluminous data generated and managed through these systems is in itself a world-wide case study. More...

भारतीय रेल प्रतिदिन लगभग 3.5 मिलियन टन माल ढोती है। माल यातायात परिचालन सूचना प्रणाली जैसे हमारे डिजिटल प्लेटफार्म भारतीय रेल के माल यातायात व्यापार का आधार स्तंभ है जो माल यातायात बुकिंग एवं राजस्व संग्रहण व्यापारिक प्रक्रियाओं का डिजिटलीकरण करती है। हमारी रेक प्रबंधन प्रणाली 8000 से अधिक स्थानों पर लगी हुई है जो दैनिक माल यातायात आवागमन और आमदनी के प्रबंधन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इस प्रणाली द्वारा अत्यधिक विशाल मात्रा में आंकड़ों का सृजन और प्रबंधन, अपने-आप में ही एक केस स्टडी है। आगे...

Operations

परिचालन

Smiley face
  • Train Traffic Control and operations for every single train over Indian Railways network.

  • Manage coaches, crew and other operations digitally.

  • Real time tracking of trains through satellite based tracking mechanism.
Smiley face
  • भारतीय रेल नेटवर्क पर प्रत्येक गाड़ी के लिए गाड़ी यातायात नियंत्रण और परिचालन

  • सवारी डिब्बों, कर्मी दल और अन्य परिचालनों को डिजिटल रूप से प्रबंधित करना।

  • सैटेलाइट आधारित ट्रैकिंग तंत्र द्वारा गाड़ियों की रियल टाइम ट्रैकिंग।

Indian Railways operate thousands of passenger & freight trains daily. The whole micro to macro controlling and management of these trains is being done through our Control Office Automation, Integrated Coaching Management System, Crew Management System and other IT solutions. Our state of art solutions like Real-Time Train Information System provides Real Time location of trains through satellite based tracking mechanism thereby improving monitoring and disseminating exact train information. More...

भारतीय रेल प्रतिदिन हजारों यात्री एवं मालगाड़ियां परिचालित करती है। इन गाड़ियों का सूक्ष्म रूप से दीर्घ रूप तक नियंत्रण और प्रबंधन हमारे कंट्रोल ऑफिस ऑटोमेशन, इंटीग्रेटिड कोचिंग मैनेजमेंट सिस्टम, क्रू मैनेजमेंट सिस्टम और अन्य आईटी सॉल्यूशनों द्वारा किया जा रहा है। रियल टाइम ट्रेन इंफोर्मेशन सिस्टम जैसा हमारा आधुनिक सॉल्यूशन सैटेलाइट आधारित ट्रैकिंग तंत्र द्वारा गाड़ियों के स्थान की रियल टाइम सूचना उपलब्ध कराता है जिससे निगरानी बेहतर होती है और सटीक गाड़ी सूचना प्रसारित की जाती है। आगे...



Asset Management

परिसंपत्ति प्रबंधन

Smiley face
  • Monitoring of Railways infrastructure consisting of Stations, Workshops, Sheds, Yards, etc.

  • Inspection & maintenance of Tracks, Overhead Line, Land, Signals, etc.

  • Management of Rolling Stock Assets viz. Locos, rakes, etc.
Smiley face
  • स्टेशनों, कारखानों, शेडों, यार्डों, आदि रेल अवसंरचनाओं की निगरानी.

  • रेल पथ, शिरोपरि लाइनों, भूमि, सिगनलों आदि की निगरानी एवं अनुरक्षण।

  • चल स्टॉक परिसंपत्तियों यथा इंजनों, रेकों आदि का प्रबंधन।

Our softwares take care of the Indian Railway's infrastructure spread over the country consisting of Railway Stations, Workshops, Sheds, Yards, etc. Life-Cycle Management of Railway assets ranging from Track, OHE, Signals, Land, etc.(non-rolling stock assets) to Locos, rakes, etc.(rolling stock assets) is being done through our platforms like Track Management System, Traction Distribution Management System, Coaching Maintenance Management System, Freight Maintenance Management System, etc. More...

हमारे सॉफ्टवेयर देश भर में फैले रेल स्टेशनों, कारखानों, शेडों, यार्डों, आदि भारतीय रेल अवसंरचना की देखरेख करते है। रेल परिसंपत्तियों का जीवन चक्र प्रबंधन जिसमें रेल पथ, शिरोपरि उपकरण, सिग्नल, भूमि आदि (गैर-चल स्टॉक परिसंपत्तियां) और इंजन, रेक, आदि (चल स्टॉक परिसंपत्तियां) शामिल है, की देखरेख हमारे ट्रैक मैनेजमेंट सिस्टम, ट्रैक्शन डिस्ट्रीब्यूशन मैनेजमेंट सिस्टम, कोचिंग मेन्टेनन्स मैनेजमेंट सिस्टम, फ्रेट मेन्टेनन्स मैनेजमेंट सिस्टम, आदि प्लेटफार्मों द्वारा किया जा रहा है। आगे...

Human Resource & Accounting

मानव संसाधन एवं लेखांकन

Smiley face
  • HR management of more than 12 lakh employees work-force .

  • Digitalization of Accounting & Finance systems with 100% online expenditure booking.

  • Online Railways Budgeting & Progress monitoring.
Smiley face
  • 12 लाख से अधिक कर्मचारियों वाले कार्यबल का मानव संसाधन प्रबंधन।

  • व्यय की 100 प्रतिशत ऑनलाइन बुकिंग सहित लेखांकन एवं वित्त प्रणाली का डिजटलीकरण।

  • रेल बजट संबंधी कार्य ऑनलाइन करना एवं प्रगति की निगरानी।

The HR management requirements of one of the largest public sector employers in the country with such a mammoth work-force has been taken care of by our solutions like Human Resource Management System, Integrated Payroll Accounting System, Shramik Kalyan Portal, Railway Employee Self-Service, etc. Accounting, Budgeting & Finance in Railways have been managed with our solutions like Accounting Information Management System, Goods & Service Tax module, Rail Budget Compilation System, etc. More...

मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली, एकीकृत पेरोल लेखा प्रणाली, श्रमिक कल्याण पोर्टल, रेलवे कर्मचारी स्वयं सेवा आदि जैसे हमारे समाधानों द्वारा देश के सबसे बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के नियोक्ताओं में से एक की मानव संसाधन प्रबंधन आवश्यकताओं का ध्यान रखा गया है। लेखा सूचना प्रबंधन प्रणाली, माल और सेवा कर मॉड्यूल, रेल बजट संकलन प्रणाली, आदि जैसे हमारे सॉल्यूशनों से रेलों में लेखांकन, बजट और वित्त का प्रबंधन किया गया है। आगे...

Procurement & Automation

प्रापण एवं ऑटोमेशन

Smiley face
  • Introducing transparency & Accountability with 100% online procurement.

  • Digitalizing Railway working through Office Automation and e-Governance solutions.

  • KPIs based & DSS enabled monitoring and sharing information with public.
Smiley face
  • 100 प्रतिशत ऑनलाइन खरीद से पारदर्शिता एवं उत्तरदायित्व की शुरुआत.

  • ऑफिस ऑटोमेशन और ई-गवर्नेंस सॉल्यूशनों द्वारा रेलवे की कार्यप्रणाली का डिजिटलीकरण।

  • KPI आधारित एवं DSS समर्थित निगरानी और जनता के साथ सूचना वितरण।

The procurement process in Railways has been revolutionized through our digital solutions like Indian Railway e-Procurement System, Integrated Material Management & Information System, etc. ensuring transparency and accountability in the processes. With an online trusted tamper free solution, average procurement time has been reduced drastically. Apart from the above, digital monitoring at apex level and by public has been facilitated through our Dashboard solutions like e-Drishti, RailDrishti, etc. More...

भारतीय रेल ई-प्रापण प्रणाली, एकीकृत सामग्री प्रबंधन एवं सूचना प्रणाली, आदि जैसे हमारे डिजिटली सॉल्यूशन सप्रक्रियाओं में पारदर्शिता और उत्तरदायित्व सुनिश्चित करते हुए रेलों में प्रापण प्रक्रिया में क्रांति लाए हैं। एक ऑनलाइन विश्वसनीय छेड़छाड़ मुक्त समाधान के साथ, औसत खरीद समय बहुत कम हो गया है। उपरोक्त के अलावा, ई-दृष्टि, रेल दृष्टि, आदि जैसे हमारे डैशबोर्ड समाधानों के माध्यम से शीर्ष स्तर पर और सार्वजनिक रूप से डिजिटल मॉनिटरिंग को सुगम बनाया गया है। आगे...



Insert title here


Technology and Us प्रौद्योगिकी और हम

Blooming together in Digital Era डिजिटल युग में एक साथ विकसित होते हुए

2015-2020

Modernizing IT Solutions by introducing Emerging Technologies

नई प्रौद्योगिकियों को शामिल कर आईटी सॉल्यूशनों को आधुनिक बनाना

Realizing the power of modern emerging technologies, CRIS is introducing emerging technologies like Blockchain, AI, ML, BigData, Business Intelligence, Cloud Services (private as well as public cloud), Agility, Chatbots, IoT, AR/VR, etc. to perform Train Route Optimizations, Capacity Enhancement, Prediction of Train Delays and Waitlist clearance, Predictive maintenance of Rail Assets, forecasting Energy Consumption, Train Timetable Optimization, etc. and thus providing a new dimension to its solutions.

आधुनिक नई प्रौद्योगिकियों की क्षमता को समझते हुए, क्रिस गाड़ी मार्ग ईष्टतमीकरण, क्षमता आवर्धन, गाड़ी देरी का अनुमान लगाना और प्रतीक्षा सूची समाप्त करना, रेल परिसंपत्तियों का भविष्यिक अनुरक्षण, ऊर्जा उपभोग का अनुमान लगाना, समय-सारणी ईष्टतमीकरण आदि निष्पादित करने के लिए ब्लॉकचैन, आर्टीफिशियल इंटेलीजेन्स (AI), ML, बिगडेटा, बिजनस इंटेलीजेन्स, क्लाऊड सेवाओं (निजी के साथ-साथ सार्वजनिक क्लाऊड), एजिलिटी, चेटबोट्स, आईओटी (IoT), AR/VR आदि जैसी भावी नई प्रौद्योगिकियों को शामिल कर रही है।

2015-2020

Digitalizing Railways through Smart Mobile Apps

स्मार्ट मोबाइल ऐप्स द्वारा रेलवे का डिजिटलीकरण

CRIS has delivered a number of public centric mobile apps like UTS, RailConnect, NTES, Rail Madad, Rail Sugam, CoachMitra, Rail Rajbhasha, etc. to cover all aspects of passenger convenience from ticket & freight booking/enquiry to complaint redressal. In addition, a number of internal Railway Mobile Apps like eDrishti, Aapoorti, Chalak Dal, Rail Saver, Hand Held Terminals, etc. have also been delivered to digitalize Railway operations and monitoring. These mobile apps have been provided in various flavours as Native iOS & Android Apps, Hybrid, Flutter, React native, Progressive Web Applications, etc. along with their Backend design, Mobile Analytics & testing activities.

क्रिस ने टिकट एवं माल यातायात बुकिंग/पूछताछ से शिकायत निवारण तक यात्री सुविधाओं के सभी पहलूओं को शामिल करने के लिए यूटीएस, रेल कनेक्ट, एनटीईएस, रेल मदद, रेल सुगम, कोच मित्र, रेल राजभाषा जैसे कई जन केंद्रित मोबाइल ऐप्स प्रस्तुत किए हैं। इसके अतिरिक्त, रेल परिचालनों का डिजटलीकरण और निगरानी करने हेतु ईदृष्टि, आपूर्ति, चालक दल, रेल सेवर, हैंड हेल्ड टर्मिनल, आदि जैसे कई आंतरिक मोबाइल ऐप भी तैयार किए गए हैं। ये मोबाइल ऐप्स उनके बेकएंड डिजाइन, मोबाइल एनलाइटिक्स एवं टेस्टिंग गतिविधियों सहित नेटिव आईओएस एवं एंड्रायड ऐप्स, हाईब्रिड, फ्लुट्टर, रिएक्ट नेटिव, प्रोग्रेसिव वेब ऐप्लिकेशनों के रूप में विभिन्न प्रारूपों में उपलब्ध कराए गए हैं।

2010-2015

Pioneered in providing Seamless IT solutions

बाधारहित आईटी सॉल्यूशन उपलब्ध करानें में शीर्ष

CRIS started adopting a number of lightweight, need based technologies like React JS, Angular JS, PHP, Python, Node JS, Ruby on Rails, HTML5, Bootstrap, etc. to provide more fruitful IT solutions. A Next generation e-ticketing solution (NGeT) to promote ticket bookings through internet was rolled out. GIS based Railway Assets and Land Mapping was also envisaged. Railway Security domain was also strengthened through IT based solutions. In all, the foundation of "Minimum Government Maximum Governance" was laid down through multiple e-Governance solutions in Railways.

क्रिस ने अधिक लाभदायक सॉल्यूशन उपलब्ध कराने के लिए रिएक्ट जेएस, एंगुलर जेएस, पीएचपी, पाईथन, नोड जेएस, रूबी ऑन रेल, HTML5, बूटस्ट्रेप, आदि हल्की, आवश्यकता आधारित प्रौद्योगिकियों को अपनाना शुरू कर दिया । इंटरनेट से टिकट बुकिंग प्रोत्साहित करने के लिए नेक्सट जनरेशन ई-टिकटिंग (NGeT) सॉल्यूशन शुरु किया गया । जीआईएस आधारित रेल परिसंपत्तियों और भूमि की मैपिंग की भी परिकल्पना की गई । आईटी सॉल्यूशनों से रेल सुरक्षा डोमेन को भी सुदृढ़ किया गया है। कुल मिलाकर, रेलों में विविध ई-गवर्नेंस सॉल्यूशनों द्वारा “मिनीमम गवर्नमेंट, मैक्सीमम गवर्नेंस” की नींव रखी गई है।

2005-2010

Path towards Glory

प्रतिष्ठा की ओर मार्ग

CRIS made its mark by becoming one stop destination for Railway IT solutions based on Web-Technologies and started delivering IT solutions for all Railway needs apart from Ticketing, Reservation and Freight Operations. This era marked multi-dimensional versatile evolution of CRIS deliverables viz. Workflow based e-Working and office automation systems using IBM technologies, J2EE based Crew Management System, Payroll and Accounting System, Asset Management Systems, Micorsoft Technologies based Control Charting, etc.

क्रिस ने टिकट प्रणाली, आरक्षण और माल यातायात परिचालन के अतिरिक्त अन्य रेल आवश्यकताओं के लिए वेब प्रौद्योगिकियों पर आधारित रेलवे आईटी सॉल्यूशनों और उनका वितरण करने के लिए वन स्टॉप गंतव्य बनकर अपनी पहचान बनाई । इस दौरान क्रिस ने आईबीएम प्रौद्योगिकियों का उपयोग करते हुए वर्कफ्लो आधारित ई-वर्किंग और ऑफिस ऑटोमेशन सिस्टम, J2EE आधारित क्रू मैनेजमेंट सिस्टम, पेरोल एंड एकाऊंटिंग सिस्टम, एसेट मैनेजमेंट सिस्टम, माइक्रोसोफ्ट प्रौद्योगिकी आधारित कंट्रोल चार्टिंग आदि समाधानों को विकसित किया जो क्रिस के बहुआयामी एवं बहुमुखी विकास को दर्शाता है।

1995-2005

Following right steps

सही कदमों का अनुसरण

CRIS established itself as an IT enterprise and gained expertise in evergreen technologies like C, C++, Visual Studio, Java, SQL, UNIX, etc. Unreserved Ticketing and Train Enquiry Systems were developed using C language and Sybase database. Train Punctuality Application using C language and Internet based Passenger Reservation were introduced in Indian Railways ecosystem. Railway Budget Compilation System using Microsoft Technologies also revolutionized the Railway Budgeting process

क्रिस ने स्वयं को एक आईटी उपक्रम के रूप में स्थापित किया और C, C++, विज्यूअल स्टूडियो, जावा, SQL, UNIX, आदि जैसी सदाबहार प्रौद्योगिकियों में विशेषज्ञता प्राप्त की । C लैंग्वेज और साईबेस डेटाबेस का उपयोग करते हुए अनारक्षित टिकटिंग और ट्रेन इंक्वायरी सिस्टम विकसित किए गए । भारतीय रेल परितंत्र में C लैंग्वेज का उपयोग करते हुए गाड़ी समयपालन ऐप्लिकेशन और इंटरनेट आधारित यात्री आरक्षण की शुरुआत की गई । माइक्रोसोफ्ट प्रौद्योगिकियों का उपयोग करते हुए रेल बजट संकलन प्रणाली से भी रेल बजट प्रक्रिया में क्रांति आई ।

1986-1995

Dawn of IT in Railways

रेलों में आईटी की शुरूआत

CRIS had mastered FORTRAN, CLIPPER, LISP, BASIC, DBASE, IBM MainFrames, Flat-Files, etc. technologies at that time when most of the enterprises were hesitating to put their foot in IT. CRIS also started digitalization of Railways by introducing IBM Mainframe/BULL Servers based Freight Operations System in Topstran, VAX Systems based Passenger Reservation Systems (Impress) developed in FORTRAN, Claims System in dBase III / Clipper and similar languages. CRIS had also enabled Railways to establish a Smart Journey Planner call center for passengers to facilitate direct/indirect journey planning.

क्रिस ने फोर्ट्रान, क्लिप्पर, लिस्प, बेसिक, डीबेस, आईबीएम मेन-फ्रेम्स, फ्लेट-फाइल्स, आदि में उस समय विशेषज्ञता प्राप्त की जब अधिकांश उपक्रम आईटी के क्षेत्र में आने में संकोच कर रहे थे। क्रिस ने टॉपस्ट्रान में आईबीएम मेनफ्रेम/बुल सर्वर आधारित माल यातायात परिचालन प्रणाली, फोर्ट्रान में विकसित वीएएक्स सिस्टम आधारित यात्री आरक्षण प्रणाली (इम्प्रेस), डीबेस III/ क्लिपर और उसी प्रकार की भाषाओं में दावा प्रणाली की शुरुआत कर रेलों में डिजिटलीकरण की शुरुआत की। क्रिस ने यात्रियों को प्रत्यक्ष/अप्रत्यक्ष यात्रा योजना बनाने की सुविधा देने के लिए एक स्मार्ट जर्नी प्लानर कॉल सेंटर स्थापित करने के लिए भी रेलों को समर्थ किया।



Testimonials साक्ष्य

Happy Customers संतुष्ट ग्राहक




Media Presence मीडिया उपस्थिति

Broadcast & Social Media प्रसारण और सोशल मीडिया


Ensuring 24X7 delivery of cost effective, reliable, secured and innovative IT solutions विश्वसनीय, सुरक्षित, लागत प्रभावी और अभिनव आईटी समाधानों की 24X7 डिलीवरी सुनिश्चित करना